शीघ्र पतन का घरेलू उपचार

शीघ्र पतन क्या है

पुरुष और स्त्री जब संभोग करते हैं तो पुरुष कि मानसिक अथवा शारीरिक कमज़ोरी के कारण वीर्य के स्खलन पर काबू नहीं रह पाता तथा न चाहते हुए भी पुरुष का वीर्य जल्दी अर्थात संभोग शुरू करने के कुछ ही समय में स्खलित या स्त्रावित हो जाता है, इस कमज़ोरी को शीघ्र पतन कहते है।

शीघ्र पतन का हमारे जीवन पर असर

पति पत्नी में संभोग के दौरान पुरुष का वीर्य यदि जल्दी स्खलित हो जाए, परन्तु पत्नी को अभी चरमसुख की प्राप्त अर्थात संतुष्टि नहीं हो पाई हो तो इससे आहिस्ता-आहिस्ता पत्नी का स्वभाव चिडचिडा होने लग जाता है।
इसकी वजह से स्त्री को अधिक आनंद प्राप्त नहीं होता, जिस कारण आपके वैवाहिक जीवन में अशांति पैदा होती है।
पति-पत्नी के सम्बन्ध में तनावपूर्ण होने लग जाते है
व्यक्ति में हीन भावना पैदा होने लग जाती है तथा वह संभोग से डरने लग जाता है।

शीघ्र पतन के कारण

  • ज़्यादा उत्तेजित होना
  • बहुत अधिक हस्त मैथुन करना
  • वीर्य क्षति होना या ज़्यादा संभोग करना
  • यदि पुरुष के मन में हर समय यह डर की वह हर बार शीघ्र पतन ग्रस्त होगा या वह इससे निजात नहीं पा सकेगा तो ऐसी स्थिति में व्यक्ति का मानसिक डर भी एक कारण बन जाता है।

 

शीघ्र पतन रोकने के घरेलू उपाय

  • उड़द की दाल के लडडू खाए।
  • काले चनों का सेवन नियमित रूप से करें।
  • भोजन में गाजर का उपयोग करें।
  • खाने में लहसुन और प्याज़ का भरपूर उपयोग करें।
  • सहजन फूल को दूध में उबाल कर पिए।
  • निम्बू के रस में अदरक का रस तथा शहद मिलाकर इसका सेवन करें।
  • सींगदाने, काजू, पिस्ता और बादाम का उपयोग बढ़ाएं।
  • किशमिश को दूध में उबाल कर दिन में दो बार खाए।
  • इमली के बीज को भिगो कर कुछ समय बाद इसका सेवन करें।
  • तरबूज तथा तरबूज के बीज का सेवन करें।
  • भिन्डी की सब्ज़ी अवश्य खाए।
  • जल्दबाजी ना करें और संयम बनाए रखें एवम मन को मजबूत बनायें।
  • संभोग करते समय अपनी गति में परिवर्तन करते रहें, साथ ही सम्भोग करते हुए बीच-बीच में कुछ क्षण आराम करें।
  • संभोग करते समय गहरी साँस लें।
  • अपना आहार संतुलित करें।
  • मानसिक तनाव से दूर रहें, साथ ही संभोग करते समय सिर्फ इस क्रिया के आनंद को महसूस करें। बाकी अन्य व्यर्थ की परेशानियों को अपने मन से निकल दें।
  • किसी भी प्रकार के नशे का सेवन न करें।